आइए जानिए, वजन कम करने के लिए इन खास टिप्स के बारे में…

आज के समय में फैट की चर्बी व बढ़ते वजन को काबू में करने के लिए लोग भरसक कोशिश करते हैं. भारी भरकम लोगों को मोटापा, हाई ब्लड प्रेशर, दिल रोग, डायबिटीज जैसी कई बीमारियों से पीड़ित होने का खतरा रहता है.

ऐसे में लोग अपनी फिटनेस को लेकर बेहद ही सजग हैं. हर आदमी अपना वजन संतुलित रखना चाहता है. वहीं, इस कोरोना काल में फैट की चर्बी होना लोगों की स्वास्थ्य के लिए खतरनाक होने कि सम्भावना है क्योंकि ऐसे लोगों को संक्रमण का खतरा अधिक रहता है. लोग अक्सर वजन घटाने के लिए सबसे पहले अपने डाइट प्लान में परिवर्तन करते हैं. पर ये चेंजेज बिना एक्स्पर्ट एडवाइस के नहीं करने चाहिए. कई बार खानपान से जुड़ी गलतियां लोगों का वजन कम करने की स्थान उन्हें व मोटा बना देती हैं. आइए जानते हैं-

जल्दबाजी में न करें भोजन: जल्दबाजी में खाना खाने से लोग जल्दी मोटे हो जाते हैं. एक शोध में इस बात का खुलासा हुआ है कि हड़बड़ी में भोजन करते हैं उन्हें दोबारा जल्दी भूख लग जाती है. साथ ही, जल्दी खाने से खाना अच्छा से पचता भी नहीं है. ऐसे में लोग ज्यादा खा लेते हैं जिससे शरीर में कैलोरीज की मात्रा ज्यादा हो जाती है. इससे शरीर में ज्यादा फैट जमा होने लगता है व फैट की चर्बी भी बढ़ता है. ऐसे में खाने को धीरे-धीरे आराम से खाना चाहिए. इससे खाना सरलता से पच जाता है व वजन नियंत्रित रहता है.

ज्यादा स्ट्रिक्ट डाइट न करें फॉलो: वेट लॉस डाइट का नाम सुनते ही लोग ये सोचने लगते हैं कि इसमें कार्ब्स व फैट का सेवन न के बराबर करना है. वास्तविक कठिनाई यहीं प्रारम्भ होती है, अपनी डाइट को ज्यादा स्ट्रिक्ट कर लेने से शरीर में पोषक तत्वों की कमी हो सकती है जो शरीर को गलत ढंग से प्रभावित कर सकती है. कीटोजेनिक या ग्लूटेनफ्री डाइट अनुसरण करने वाले लोगों के शरीर में भी कई महत्वपूर्ण तत्व नहीं पहुंच पाते. जॉन हॉपकिंस मेडिसिन में हुए एक शोध के अनुसार किसी भी आदमी का दिमाग ठीक ढंग से चले इसके लिए कम से कम 130 ग्राम कार्ब्स का सेवन महत्वपूर्ण है. ऐसे में अगर आप पतले होने के लिए कार्ब्स लेना बंद कर देंगे तो इससे शरीर पर निगेटिव असर पड़ेगा.

पानी पीना है जरूरी: दिन भर में जो लोग कम से कम 3 लीटर पानी पीते हैं, उनके लिए वजन घटाने की प्रक्रिया सरल हो जाती है. ऐसा इसलिए क्योंकि पर्याप्त मात्रा में पानी पीने से शरीर में उपस्थित टॉक्सिक मेटीरियल्स बाहर निकल जाते हैं व लोगों का मेटाबॉलिज्म बेहतर बना रहता है.

You May Also Like

About the Author: Admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: